About Me

header ads

Bundi में कोविड 19 फैलाने का सबसे बड़ा खतरा कोटा से अवैध तरीके से अपडाउन करने वाले दर्जनों कर्मचारी?

बूंदी। जिले के सारे प्रशासन, पुलिस समाजसेवी संस्थाओं, प्रेस व जिले के 15 लाख लोगों की मेहनत पर पानी फेरकर सब पर भारी पड़ रहे हैं कोटा से अपडाउन करने वाले निकम्मे कर्मचारी। कोटा के कर्फ्यूग्रस्त व संवेदनशील क्षेत्र से भी कई कर्मचारी रोजाना बूंदी आ रहे हैं और रात को कोटा जा रहे हैं, पूरे बूंदी जिले के निर्दोष नागरिकों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं यह कोटा से आने वाले कर्मचारी।

जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष चर्मेश शर्मा ने बून्दी के नागरिकों की ओर से जिला कलेक्टर अतरसिंह नेहरा व एसपी शिवराज मीणा से  मिलकर सौंपा अपडाउन पर कड़ी कार्यवाही को लेकर कठोर भाषा में पत्र।  पत्र में लिखा जब जिला कलेक्टर व एसपी मुख्यालय पर ठहराव कर रहे है तो यह कामचोर कर्मचारी क्यों कोटा जा रहे हैं?                                   
जिला कलेक्टर व एसपी को सौंपे पत्र में कहा  कोटा से अपडाउन नहीं रोक सकते तो हटा लें बून्दी जिले से भी लोकडाउन। कोटा से अपडाउन से निरर्थक हो सकता है,बून्दी  प्रशासन, पुलिस, सभी विभागों व पूरे समाज की मेहनत का लॉकडाउन। जिला अस्पताल आरटीओ ऑफिस सहित  कई सरकारी कार्यालय में बड़ी संख्या में सरकारी कर्मचारी कोटा से  अपडाउन कर रहे हैं और बूंदी के लोगों के संपर्क में आ रहे हैं।
प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों की रात को आकस्मिक मुख्यालय चेक करने की टीम बनाने की मांग, अपडाउन करने वालों के विरुद्ध महामारी अधिनियम में दर्ज करवायी जाए एफआईआर। जिला कलेक्टर अतर सिंह नेहरा व एसपी शिवराज मीणा ने भी माना गम्भीर,  दिलाया उचित कार्यवाही का भरोसा।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां